स्टार नहीं, स्टोरी है इन फ़िल्मों का हीरो

मुंबई: 9 मई को 6 फ़िल्में रिलीज़ हो रही हैं, जिनमें एक एनीमेशन फ़िल्म है। बाक़ी पांच फ़िल्मों में ना तो कोई स्टार फेस है, और ना ही इन फ़िल्मों का बजट बहुत ज़्यादा है। अगर कुछ है, तो इनकी कहानी, जो दर्शकों के लिए नए तरह का अनुभव होगा।
मस्तराम: अखिलेश जायसवाल डायरेक्टिड मस्तराम एडल्ट फ़िल्म है। सस्ते साहित्य की जानकारी रखने वालों ने मस्तराम का नाम सुना होगा। छोटे शहरों और क़स्बों में बिकने वाले सेक्स से भरपूर सस्ते साहित्य का लेखक है मस्तराम। फ़िल्म उसी मस्तराम की काल्पनिक आत्मकथा है। अखिलेश ने मस्तराम के ज़रिए उस लेखक की ज़िंदगी को दिखाने की कल्पना की है, जिसके बारे में किसी को नहीं पता। फ़िल्म में राहुल बग्गा मस्तराम का रोल निभा रहे हैं, जबकि तारा अलिशा बेरी मस्तराम की पत्नी के क़िरदार में हैं।
14
मंजुनाथ: संदीप ए वर्मा डायरेक्टिड मंजूनाथ उत्तर प्रदेश में बेस्ड क्राइम ड्रामा है। ये फ़िल्म कुछ साल पहले हुए चर्चित मंजूनाथ हत्याकांड पर आधारित है, जिसमें ऑयल माफ़िया के ख़िलाफ़ एक ईमानदारी अफ़सर की लड़ाई को दिखाया गया है। मंजूनाथ ने पेट्रोल पंप पर होने वाली मिलावट के ख़िलाफ़ अभियान छेड़ दिया था, जिसकी क़ीमत उन्हें अपनी जान गंवाकर चुकानी पड़ी। फ़िल्म में सीमा बिस्वास, दिव्या दत्ता, किशोर कदम, राजेश खट्टर, अंजोरी अलग और यशपाल शर्मा मुख्य भूमिकाओं में हैं।
06-SM-P_2-Hari-_06_1322390g
कोयलांचल: जैसा कि नाम से ही ज़ाहिर है, डायरेक्टर आशु त्रिखा की ये फ़िल्म कोयला माफ़िया पर आधारित है। सियासी साठगांठ से फलते-फूलते कोयला माफ़िया के सामने क़ानून कितना बेबस है, यही कोयलांचल का निचोड़ है। फ़िल्म में विनोद खन्ना कोयला माफिया के रोल में हैं, जबकि सुनील शेट्टी प्रशासनिक अधिकारी का रोल निभा रहे हैं।
koyelaanchal-1b
यह है बकरापुर: पत्रकार रहीं जानकी विश्वनाथन डायरेक्टिड यह है बकरापुर पॉलिटिकल सेटायर फ़िल्म है। कहानी एक बकरे के इर्द-गिर्द घूमती है, जिसका नाम शाह रूख़ है। ये बकरा गांव में रॉकस्टार बन जाता है, और फिर उसको लेकर कई दिलचस्प घटनाएं होती हैं। फ़िल्म में लीड रोल्स में आयुष्मान झा, आसिफ बसरा, योशिका वर्मा निभा रहे हैं।
Yeh-hai-Bakrapur
हवा हवाई: लेखक-निर्देशक-एक्टर अमोल गुप्ते की दूसरी हिंदी डायरेक्टोरियल फ़िल्म है हवा हवाई। फ़िल्म की कहानी एक बच्चे की महत्वाकांक्षा के इर्द-गिर्द घूमती है, जो स्केट्स को चैंपियन बनना चाहता है। फ़िल्म में अमोल के बेटे पार्थो गुप्ते और साक़िब सलीम लीड रोल निभा रहे हैं। साक़िब पार्थो के स्केट्स कोच के रोल में हैं।
hawa-hawaiii

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.