‘भट्ट साब के साथ बातें करना अपने-आप में स्कूल है’

मुंबई : राजकुमार यादव बन चुके हैं राजकुमार राव। सरनेम में बदलाव के साथ राजकुमार के करियर में भी कई बदलाव आ चुके हैं। अब वो बन चुके हैं फ़िल्ममेकर्स के फेवरिट एक्टर।

क्वीन के एक सीन में राजकुमार।
क्वीन के एक सीन में राजकुमार।

उन्हें सोलो लीड वाली फ़िल्में मिलने लगी हैं, साथ ही फ़िल्ममेकर्स उनके साथ काम करने की ख़्वाहिश जता रहे हैं। सात मार्च को रिलीज़ हो रही फैंटम प्रोडक्शन की फ़िल्म ‘क्वीन’ में राजकुमार राव मेल लीड रोल में हैं। पहली बार उन्हें कंगना राणावत जैसी बड़ी एक्ट्रेस का ‘राजकुमार’ बनने का मौक़ा मिला है, जिनके एक्टिंग स्किल्स से राजकुमार काफी प्रभावित हैं।

“कंगना के साथ काम करके मज़ा आया। बहुत स्वीट पर्सन हैं। कंगना ने इस फ़िल्म में आज तक का बेस्ट काम किया है।”

विकास बहल डायरेक्टिड ‘क्वीन’ में कंगना रानी  नाम का क़िरदार निभा रही हैं। कहानी इसी क़िरदार के इर्द-गिर्द घूमती है। राजकुमार ने अपना फ़िल्मी करियर 2010 में दिबाकर बनर्जी डायरेक्टिड फ़िल्म ‘लव सेक्स और धोखा’ से शुरू किया, लेकिन 2012 और 2013 उनके लिए बेहद ख़ास रहे हैं। 2012 में राजकुमार ‘गैंग्स ऑफ़ वासेपुर-2’, ‘चित्तगांग’ और आमिर ख़ान की फ़िल्म ‘तलाश’ में नज़र आए। तीनों ही फ़िल्मों में उनके क़िरदार मुख्य नहीं थे, लेकिन बेहद असरदार थे। पिछले साल राजुकमार की दो फ़िल्में आईं- डायरेक्टर अभिषेक कपूर की ‘काय पो छे’ और हंसल मेहता की ‘शाहिद’।

शाहिद में राजकुमार।
शाहिद में राजकुमार।

‘शाहिद’ मुंबई के ह्यूमन राइट्स लॉयर शाहिद आज़मी की ज़िदगी पर आधारित फ़िल्म है, जिनकी कुछ साल पहले उनके ऑफ़िस में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। राजकुमार ने शाहिद के करेक्टर को बड़े पर्दे पर निभाया। इस क़िरदार के ज़रिए राजकुमार ने ना सिर्फ़ तारीफ़ें, बल्कि कुछ अवॉर्ड्स भी बटोरे। राजुकमार ने अदाकारी की जो मिसाल पेश की, उसने महेश भट्ट जैसे फ़िल्ममेकर को भी उनका मुरीद बना दिया।

एक सेलिब्रटी टीवी चैट शो में भट्ट साब ने खुलकर राजकुमार राव की तारीफ़ की, और कहा, कि वो ऐसे एक्टर हैं, जिनके साथ भट्ट साब बार-बार काम करना चाहेंगे। राजकुमार इस वक़्त भट्ट कैंप की फ़िल्म ‘सिटी लाइट्स’ में लीड रोल निभा रहे हैं। इस फ़िल्म को विशेष फ़िल्म्स और फॉक्स स्टूडियो मिलकर प्रोड्यूस कर रहे हैं, जबकि डायरेक्टर हंसल मेहता ही हैं। महेश भट्ट की तारीफ़ ने राजकुमार की सफलता को मायने दे दिए हैं।

“भट्ट साब जैसा बड़ा आदमी तारीफ़ करे, तो अच्छा लगता है। उनके साथ अक्सर बैठता हूं। बहुत बातें होती हैं। उनके साथ बात करना ही अपने आप में एक स्कूल है। बहुत कुछ सीखने को मिलता है।”

सिटी लाइट्स में राजकुमार।
सिटी लाइट्स में राजकुमार।

‘सिटी लाइट्स’ के अलावा राजकुमार अरबाज़ ख़ान प्रोडक्शन की फ़िल्म ‘डॉली की डोली’ में मुख्य चरित्रों के बीच दिखाई देंगे। इस कॉमेडी फ़िल्म में सोनम कपूर फीमेल लीड रोल में हैं। वहीं, भट्ट कैंप की फ़िल्म ‘हमारी अधूरी कहानी’ में राजकुमार इमरान हाशमी और विद्या बालन के साथ नज़र आएंगे। उम्मीद है, कि राजकुमार की मीनिंगफुल फ़िल्मों का सिलसिला यूं ही आगे बढ़ता रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.