बाल बढ़ा लेना अभिनय नहीं होता : नसीर

naseeruddin-shah-madhuri-dixit-romantic-still-from-film-dedh-ishqiya_138536354000
‘डेढ़ इश्क़िया’ में माधुरी संग नसीरुद्दीन।

मुंबई, एससी संवाददाता : ‘भाग मिल्खा भाग’ में अगर आपने फ़रहान अख़्तर के काम को पसंद किया है, और मिल्खा सिंह बनने के लिए उनके डेडिकेशन को सलाम किया है, तो एक बार नसीरूद्दीन शाह की बात ज़रूर सुन लीजिए।

नसीर साब का कहना है, कि फिल्म में फ़रहान अख़्तर ने अच्छा अभिनय नहीं किया है। सिर्फ़ गठीला बदन बनाना और बाल लंबे कर लेना अदाकारी नहीं होती।

बॉलीवुड में अपने ख़ास तरह के अभिनय के लिए मशहूर नसीर साब का ये चौंकाने वाला कमेंट ‘डेढ़ इश्किया’ के प्रमोशंस के दौरान सामने आया है।

* नसीर ने साधा फरहान अख़्तर पर निशाना

* गेटअप वाले रोल्स के लिए अमिताभ ज़िम्मेदार

उनसे जब सवाल पूछा गया, कि हाल ही में रिलीज़ कौन सी फ़िल्म उन्हें पसंद नहीं आई, तो नसीर ने झिझके बिना कहा- “भाग मिल्खा भाग बेहद ड्रामेटिक और फेक फ़िल्म थी. हालांकि फ़रहान ने इसके लिए काफी मेहनत की, लेकिन अपना शरीर बना लेना और बाल बढ़ा लेना ही तो काफ़ी नहीं होता। थोड़ी एक्टिंग भी कर लेते तो अच्छा होता।”

20131112081926_Naseeruddin-Shah-in-Kaizad-
‘जैकपॉट’ में नसीर।

दिलचस्प बात ये है, कि नसीर साब ख़ुद अपनी पिछली फ़िल्म ‘जैकपॉट’ में लंबे बालों के साथ आए। कैज़द गुस्ताद डायरेक्टिड इस फ़िल्म में सचिन जोशी और सनी लियोनी ने लीड रोल्स प्ले किए।

एक तरफ फ़रहान के अभिनय की आलोचना करने वाले नसीर साब अमिताभ बच्चन पर भी तंज कसने से नहीं चूके। उन्होंने कहा, कि फ़िल्मों में गेटअप बदलने वाले क़िरदार मशहूर बनाने का क्रेडिट अमिताभ को जाता है।

नसीर साब ने आगे कहा, कि जब अमिताभ बच्चन फिल्म इंडस्ट्री में आए थे तो उन्हें गैर पारंपरिक रूप वाला कलाकार कहा जाता था। लेकिन आज उन्हें आकर्षक कलाकार कहा जाता है।

नसीरुद्दीन शाह ‘डेढ़ इश्किया’ में खालू जान का क़िरदार निभा रहे हैं। फ़िल्म में उनके अपोजिट माधुरी दीक्षित हैं। साथ में अरशद वारसी और हुमा कुरैशी भी हैं। फ़िल्म को डायरेक्ट किया है अभिषेक चौबे ने, जबकि प्रोड्यूसर हैं विशाल भारद्वाज।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.