फूलन देवी हत्याकांड पर बन रही फ़िल्म में नवाज़

मुंबई: फूलन देवी के क़ातिल शेर सिंह राणा को आज दिल्ली की पटियाला हाउस अदालत ने हत्या का दोषी माना है, और 12 अगस्त को सज़ा पर फ़ैसला दिया जाएगा। अदालत के इस फ़ैसले के बाद राणा पर बन रही वो फ़िल्म फिर से चर्चा में आ गई है, जो फूलन देवी की हत्या और उसके बाद राणा की ज़िंदगी पर बेस्ड है।

‘शेर सिंह राणा- द एंड ऑफ़ बैंडिट क्वीन’ के नाम से ये फ़िल्म बनाई जा रही है, जिसमें नवाज़उद्दीन सिद्दीक़ी राणा के क़िरदार में नज़र आएंगे, जबकि बमन ईरानी भी एक अहम् रोल निभा रहे हैं। इस फ़िल्म का ख़ाका दो साल पहले ही तैयार हो गया था।

End Of Bandit Queen

राणा की कहानी में किसी एक्शन थ्रिलर फ़िल्म का  भरपूर मसाला है। साजिश, हाई प्रोफाइल मर्डर और जेल ब्रेक सब कुछ है। शेर सिंह राणा ने 25 जुलाई 2001 को फूलन देवी की उनके घर पर गोली मारकर हत्या कर दी थी। बीहड़ से संसद पहुंचीं फूलन उस वक़्त समाजवादी पार्टी की सांसद थीं।

2004 में राणा तिहाड़ जैसी कड़ी सुरक्षा वाली जेल तोड़कर फ़रार हो गया था। पुलिस ने दो साल बाद उसे कोलकाता से गिरफ़्तार किया। इस दौरान राणा मुरादाबाद, रांची, हरिद्वार, बंगलादेश होता हुआ दुबई गया, और वहां से अफ़गानिस्तान के कंधार शहर पहुंचा। विदेश यात्राओं के लिए राणा ने संजय गुप्ता के नाम से पासपोर्ट भी बनवा लिया था, और परिवार के संपर्क करने के लिए एक सेटेलाइटफोन ख़रीदा था।

बताया जाता है, कि राणा के कंधार जाने का मक़सद वहां से पृथ्वीराज चौहान की समाधि खोदकर उसमें से उनकी अस्थियां लाना था, जिसमें वो क़ामयाब रहा। एक बड़े पब्लिसिंग हाउस राणा के जीवन एक किताब भी छापी है। जिसका नाम ‘तिहाड़ से कंधार तक’ है।

‘शेर सिंह राणा- द एंड ऑफ़ बैंडिट क्वीन’ को जेएस वालिया प्रोड्यूस कर रहे हैं, जबकि मुंचेर वाडिया डायरेक्ट करेंगे।

nawazuddin2_660_123112032532

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.