किसने किया ‘आरूषि’ का क़त्ल, ‘रहस्य’ से उठा पर्दा!

मुंबई: देश को हिला देने वाले आरूषि डबल मर्डर केस में सीबीआई की अदालत ने भले ही डॉ. राजेश और नूपुर तलवार को क़ातिल माना हो, लेकिन इस हत्याकांड से इंस्पायर्ड फ़िल्म ‘रहस्य’ में आरूषि  का मर्डरर कोई और दिखाया गया है। फ़िल्म की रिलीज़ को लेकर हुए विवाद के चलते इस रहस्य से पर्दा उठ गया है।

Rahasya_2_7522_9101

‘रहस्य’ से जुड़े सूत्रों के मुताबिक़, फ़िल्म में आरूषि  के क़ातिल उसके माता-पिता नहीं, बल्कि उसकी सौतेली मां है। फ़िल्ममेकर्स ने ‘रहस्य’ को यही ट्विस्ट दिया है। आम तौर पर सस्पेंस थ्रिलर फ़िल्म्स के क्लाइमेक्स को छिपाकर रखा जाता है, लेकिन ‘रहस्य’ का क्लाइमेक्स रहस्य रखना मुश्किल हो गया।

दरअसल, इस फ़िल्म के ख़िलाफ़ डॉ. राजेश और नूपुर तलवार ने बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर की है, जिसमें फ़िल्म की रिलीज़ पर रोक लगाने की मांग की गई है। तलवार परिवार का कहना है, कि फ़िल्म से राजेश और नूपुर के बारे में समाज में ग़लत धारणा बन रही है। हाईकोर्ट ने फ़िल्म की रिलीज़ पर 13 जून तक रोक लगाई हुई है।

Rahasya-not-on-Aarushi-Hemraj-murder-case

फ़िलहाल उम्र क़ैद की सज़ा काट रहे राजेश और नूपुर ने सीबीआई अदालत के निर्णय को इलाहाबाद हाईकोर्ट में चुनौती दी हुुई है। तलवार परिवार की एक सदस्य हाल ही में ‘रहस्य’ की स्क्रीनिंग में शामिल भी हो चुकी हैं, और फ़िल्म देखने के बाद उन्होंने इसकी रिलीज़ पर तब तक रोक लगाने की बात कही, जब तक इस केस में फाइनल निर्णय नहीं हो जाता।

‘रहस्य’ को मनीष गुप्ता ने डायरेक्ट किया है। फ़िल्म में आशीष विद्यार्थी राजेश तलवार पर आधारित क़िरदार में हैं, जबकि टिस्का चोपड़ा का क़िरदार नूपुर पर बेस्ड है। आरूषि के करेक्टर में हैं बेबी साक्षी सेम। केक मेनन और मीता वशिष्ठ भी फ़िल्म में अहम् रोल निभा रहे हैं।

आरूषि मर्डर केस:

डॉ. राजेश तलवार और नूपुर तलवार की बेटी आरूषि का उनके नोएडा स्थित घर में 15-16 मई, 2008 को क़त्ल कर दिया गया था। 17 मई को नौकर हेमराज की लाश भी घर की टेरेस से बरामद हुई। काफी वक़्त तक पुलिस मामले को सुलझा ना सकी, तो केस सीबीआई के पास चला गया। सीबीआई ने डबल मर्डर के लिए डॉ. राजेश और नूपुर को ज़िम्मेदार माना, और सीबीआई की अदालत ने पिछले साल नवंबर में दोनों को उम्र क़ैद की सज़ा सुना दी। डॉ. राजेश ने इस फ़ैसले के ख़िलाफ़ इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दायर की हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.