इतनी बड़ी स्टारकास्ट के साथ कभी काम नहीं किया: अभिषेक कपूर

मुंबई: हिंदी सिनेमा में अभिषेक कपूर (गट्टू) की इमेज ऐसे डायरेक्टर के तौर पर है, जो हुनरमंद होने के साथ संजीदा भी हैं। बतौर एक्टर फ़्लॉप होने के बाद अभिषेक ने ‘रॉक ऑन’ से डायरेक्शन में क़दम रखा, और फिर मुड़कर नहीं देखा। उनकी पिछली फ़िल्म ‘काय पो छे’ चेतन भगत के नॉवल ‘द 3 मिस्टेक्स ऑफ़ माई लाइफ़’ पर बेस्ड थी। फ़िल्म को जमकर सराहा गया। अभिषेक अब तैयारी कर रहे हैं अपनी अगली फ़िल्म ‘फ़ितूर’ की, जो चार्ल्स डिकेंस के नॉवल ग्रेट एक्सपेक्टेशंस का एडेप्टेशन है। फ़िल्म में आदित्य रॉय कपूर और कटरीना कैफ़ लीड रोल्स में हैं, जबकि वेटरन एक्ट्रेस रेखा एक स्पेशल क़िरदार निभा रही हैं। यहां पेश है अभिषेक के साथ ‘सिंसियरली सिनेमा’ की खास बातचीत-

सिंसि: आप पहली बार रेखा के साथ काम कर रहे हैं। पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ़ में वो काफी रिजर्व रहती हैं। आपका अनुभव कैसा रहा?

अभिषेक- वो शानदार एक्ट्रेस हैं। मेरी उनके साथ कुछ मुलाक़ातें ही हुई हैं, और मुझे वो बहुत अच्छी लगीं। वो पब्लिक में ज़्यादा दिखाई नहीं देतीं। इसलिए उनके साथ उनकी मुलाक़ातें और ख़ास हो गई हैं। उन्होंने अच्छे से सीरी बातें समझीं, और मैं किस तरह की फ़िल्म बनाना चाहता हूं, मैं क्या कहानी कहना चाहता हूं, उन्होंने सब पर चर्चा की। उन्होंने अपना क़िरदार डिस्कस किया। हर निर्देशक का कहानी कहने का अपना अंदाज़ होता है। मुझे ये देखकर ताज्जुब हुआ, कि वो मेरे अंदाज़ से अच्छी तरह वाक़िफ हैं।

fitoor_650_051514041728

सिंसि: फितूर में पहले सुशांत सिह राजपूत लीड रोल निभाने वाले थे, जिन्हें आपने ‘काय पो छे’ जैसी क़ामयाब फ़िल्म दी है। शेखर कपूर की ‘पानी’ के लिए उन्होंने आपकी फ़िल्म छोड़ दी। अब उनकी जगह आदित्य रॉय कपूर हैं। स्टार कास्ट बदलने से कोई दिक्कत नहीं होगी?

अभिषेक- कास्टिंग का मतलब ये नहीं होता, कि सिर्फ़ एक लीड एक्टर को कास्ट करना है। मैं जब भी फ़िल्म बनाता हूं, वो मेरे लिए एक लर्निंग एक्सपीरिएंस होता है। मैंने कभी इतनी बड़ी स्टार कास्ट (रेखा और कटरीना कैफ़) के साथ काम नहीं किया है। इसलिए मेरे लिए ये नया अनुभव है। मैेने इन एक्टर्स को इसलिए लिया है, क्योंकि जिस तरह की कहानी है उसमें वही फिट होते हैं।

सिंसि: आदित्य रॉय कपूर के साथ कटरीना कैफ़ पहली बार काम कर रही हैं। इनकी केमिस्ट्री को लेकर कोई शक़?

अभिषेक- मैं किसी एक खास एक्टर को कास्ट कर लूं, और फिर बाक़ियों की खोज करूं। ये मेरा तरीक़ा नहीं है। आपको अपनी कल्पना में ही एक्टर्स की केमिस्ट्री के बारे में सोचना पड़ता है। इसलिए अभी से ये कहना बड़ा मुश्किल है, कि आदित्य के साथ किसकी केमिस्ट्री फिट बैठेगी।

सिंसि: सिंसियरली सिनेमा से बात करने के लिए धन्यवाद।

अभिषेक- आपका भी धन्यवाद।

abhishek-feb26

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *