अब तक सिर्फ़ पढ़ा है, अब देखिए ‘मस्तराम’ को

mastram-filmycurrycomमुंबई : देश के छोटे क़स्बों-शहरों में रहने वाले लोग मस्तराम के नाम से ज़रूर वाक़िफ़ होंगे। ख़ासकर वो, जो अस्सी के दशक में और उसके बाद जवानी की दहलीज़ पर पहुंचे हैं। सेक्स संबंधित जिज्ञासाएं उन्हें अक्सर सस्ते साहित्य यानि सॉफ्ट पॉर्न की तरफ ले जाती थीं, और इस साहित्य का एक ही रचयिता था- मस्तराम।

अब इसी मस्तराम की कहानी बड़े पर्दे पर आ रही है। ‘मस्तराम’ को लिखा और डायरेक्ट किया है अखिलेश जायसवाल ने, जबकि प्रोड्यूसर हैं अजय जी राय और संजीव सिंह पाल।

फ़िल्म में ‘मस्तराम’ के टाइटल रोल में हैं राहुल बग्गा, जो ‘लव-शव ते चिकन खुराना’ में नज़र आ चुके हैं। वहीं, मस्तराम की वाइफ़ का क़िरदार निभा रही हैं तारा अलीशा बेरी। तारा, सिकंदर खेर की स्टेप सिस्टर हैं, और उनकी ये पहली फ़िल्म है।

फ़िल्म की कहानी एक साधारण इंसान के ‘मस्तराम’ बनने की यात्रा है। दिलचस्प बात ये है, कि मस्तराम की असली पहचान कोई नहीं जानता। डायरेक्टर अखिलेश जायसवाल कहते हैं, कि वो चाहते हैं, कि फ़िल्म देखने के बाद असली मस्तराम या उनके परिवार के लोग सामने आएं, क्योंकि ये कहानी उस शख़्स के बारे में हैं, जिसने पहली बार मस्तराम के नाम से सॉफ्ट पॉर्न लिखा होगा।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.